सीए का क्या काम होता है | सीए बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है 2023

सीए का क्या काम होता है, सीए बनने के लिए कौनसी पढ़ाई करनी पड़ती है, CA Kya Hota Hai, सीए कैसे बन सकते है, सीए बनने का पूरा प्रोसेस, CA Course Details Hindi, CA Salary In India के बारे में जानने के लिए आर्टिकल पूरा पढ़ें।

जिन स्टूडेंट्स को कॉमर्स विषय में इंटरेस्ट होता है, वो भविष्य में बड़े होकर सीए बनना चाहते है और सीए की तैयारी करते है।

अगर यह जानना है कि सीए का क्या काम होता है, सीए बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है, तो इसके बारे में आज हम आपको पूरी जानकारी देंगे। 

आज का यह आर्टिकल CA Ka Kya Kaam Hota Hai और सीए की अन्य जानकारी के बारे में होगा।

इसके अलावा हम आपको सीए कोर्स क्या होता है, सीए कोर्स फीस, सीए जॉब सैलरी, CA Kaise Bane Full Details In Hindi आदि के बारे में भी बताएंगे।

इसलिए हमारे इस आर्टिकल को ध्यान से और पूरा पढ़ें आपको सीए का क्या काम होता है और इससे सबंधित सारी जानकारी मिलेगी।

सीए क्या काम करता है (CA Kya Kaam Karta Hai)

सीए का क्या काम होता है, सीए बनने के लिए कौनसी पढ़ाई करनी पड़ती है, CA Kya Hota Hai, सीए कैसे बन सकते है, सीए बनने का पूरा प्रोसेस, CA Course Details Hindi, CA Salary In India

जिस तरह की पोस्ट महत्वपूर्ण होती है उसी तरह से सीए के काम भी महत्वपूर्ण होते हैं और बहुत मायने रखते हैं। अगर आप भी जानना चाहते हैं कि सीए का क्या काम होता है, तो निम्नलिखित बिंदुओ को पढ़ें।

  • सीए का काम बजट का प्रबंधन करना होता है और इसके अलावा चाहिए टैक्स प्लानिंग, ऑडिटिंग आदि के कार्य भी सीए करता है।
  • कंपनी के लिए सीए बिजनेस की रणनीति बनाने में भी सहायता करते है और कंपनी के फाइनेंशियल रिकॉर्ड बनाने में भी मदद करते है।
  • इसके साथ ही बैंक ऑडिटिंग, बिजनेस अकाउंट मैनेज करना आदि भी सीए करता है।
  • टैक्स रिटर्न फाइल बनाना, हर महीने फाइनेंसियल स्टेटमेंट तैयार करना, बैलेंस शीट तैयार करना आदि काम भी सीए के होते हैं। 
  • कंपनी की वित्तीय गतिविधियों पर ध्यान देना, व्यापार को और अधिक बढ़ाने, कंपनी का प्रॉफिट बढ़ाने आदि से संबंधित एडवाइस देना आदि भी सीए के कार्य होते हैं।
  • कंपनी की वित्तीय जानकारी का विश्लेषण करके कंपनी पर आने वाले वित्तीय संकट और फंड की कमी के बारे में भी जानकारी एक सीए देता है।
  • लोगों को वित्तीय सलाह प्रदान करना, कंपनी में फंड को कैसे मैनेज करें इसके बारे में भी एडवाइस देना सीए का काम होता है।
  • इंटरनल ऑडिटिंग का काम, एक्सटर्नल ऑडिटिंग का काम, कंपनी में होने वाले फ्रॉड के बारे में कंपनी को सचेत करना आदि जैसे महत्वपूर्ण कार्यों में भी सीए की भागीदारी होती है।
  • इसके अलावा सीए एक टैक्स स्पेशलिस्ट, फाइनेंस मैनेजर, फाइनेंस एडवाइजर, अकाउंट मैनेजर, ऑडिटर आदि के कार्य करता है।

तो यह सब सीए के काम होते हैं और आपको यह सब पढ़कर समझ में आ गया होगा कि सीए का क्या काम है? 

तो अब आपको हम सीए बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है? इसके बारे में जानकारी देंगे और सीए से जुड़ी अन्य जानकारी के बारे में भी बताएंगे।

सीए बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है (CA Banne Ke Liye Kaun Si Padhai Karni Padti Hai)

कई स्टूडेंट 12वीं के बाद या ग्रेजुएशन के बाद सीए बनना चाहते हैं, लेकिन उन्हें सही से पता नहीं होता है कि सीए बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी चाहिए? तो इसके लिए अब हम इसके बारे में भी जानकारी देंगे। 

आपको तो पता ही है कि सीए बनने के लिए कई महीनों तक मेहनत करनी पड़ती है और सीए सिलेबस कंप्लीट करना होता है, जो कुछ इस प्रकार होता है।

#1: सीए फाउंडेशन कोर्स सिलेबस (CA Foundation Course Syllabus)

  • General English
  • Business Communication
  • Business Mathematics
  • Principles of Accounting
  • Business and Commercial Knowledge, Business Economics
  • Business Mathematics
  • Logical Reasoning and Statistics
  • Quantitative Aptitude

#2: इंटीग्रेटेड प्रोफेशनल कोम्पिटेंस कोर्स सिलेबस (CA IPCC Syllabus)

  • Accounting
  • Income Tax Law Knowledge
  • Taxation
  • Auditing
  • Financial Management, Cost Accounting
  • Advance Accounting
  • Enterprise Information System
  • Assurance and Auditing Studies
  • Corporate Law
  • Economics for Finance
  • Other Laws

#3: सीए फाइनल कोर्स सिलेबस (CA Final Course Syllabus) 

  • Advanced Auditing and Professional Ethics
  • Direct Tax Laws, Indirect Tax Laws
  • Corporate Laws and Lloyd Laws
  • Financial Reporting Studies
  • Information System Control
  • Strategic Cost Management and strategic Financial Management
  • International Tax Knowledge

आपको यहां तक समझ आ गया होगा कि सीए बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है और आपको बता दें कि सीए बनने के लिए आपको दिन रात पढ़ाई करनी पड़ेगी क्योंकि सीए की जॉब पाना आसान नहीं होता है। अब आपको सीए क्या होता है, सीए कैसे बने आदि के बारे में भी जानकारी देंगे। 

सीए कौन होता है (CA Kya Hota Hai Hindi Me)

सीए क्या होता है, इसके बारे में बात करने से पहले आपको बताते हैं कि सीए की फुल फॉर्म क्या होती है सीए की फुल फॉर्म “chartered Accountant” होती है। 

सीए वह व्यक्ति होता है जो अकाउंट, फाइनेंस, टैक्सेशन, फंड मैनेजमेंट, फाइनेंसियल स्टेटमेंट तैयार करना, ऑडिटिंग आदि के कार्य करता है और सीए ऐसे ही कई वित्तीय कार्यों में सहायता प्रदान करने का काम करता है।

सीए का काम हर कंपनी, संस्था आदि के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है, क्योंकि सीए इन सभी के फाइनेंस को मैनेज करता है और उनकी जानकारी समय-समय पर देता रहता है तथा फाइनेंसियल एडवाइस देने का भी कार्य करता है, जो कि सीए की पोस्ट और महत्वपूर्ण बनाता है। 

इन्हीं वजह से सीए बनना इतना आसान नहीं होता है और सीए बनने के लिए कई महीनों तक पढ़ाई करनी पड़ती है और तैयारी करनी पड़ती है।

सीए कैसे बने (CA Kaise Bane)

आपको बता दें कि आप 12वीं कक्षा पास करने के बाद भी सीए की तैयारी करके सीए बन सकते हैं, इसके लिए आपको पहले सीटीईटी का एग्जाम देना होता है।

अगर आप सीपीटी का एग्जाम चूक गए हैं, तो आप ग्रेजुएशन के बाद सीए एग्जाम देकर सीए बन सकते हैं। 

सीए कैसे बनते हैं के बारे में अच्छे से जानने के लिए निम्नलिखित को पूरा पढ़ें।

#1: सीपीटी (CPT) एग्जाम के लिए आवेदन करें और पास करें

सीए बनने के लिए आपको सबसे पहले सीपीटी एग्जाम के लिए करना होता है सीपीटी का पूरा नाम “Common Proficiency Test” होता है।

तथा इस एग्जाम के लिए आप 10वीं कक्षा में अच्छे मार्क्स लाकर आवेदन कर सकते हैं तथा इसके लिए आवेदन 12वीं के बाद भी कर सकते हैं और आपको बता दें कि यह एग्जाम आप कक्षा 12वीं कक्षा अच्छे मार्क्स के साथ पास करने के बाद ही दे सकते हैं।

सीपीटी एग्जाम देने के लिए आपके कक्षा 12वीं में कम से कम 50% मार्क्स से पास हुए हो और कॉमर्स विषय में 50% मार्क्स या इससे ज्यादा आए हो। इसलिए सीए की तैयारी के लिए सबसे पहले कक्षा बारहवीं को अच्छे अंकों के साथ पास करना जरूरी है विशेषकर कॉमर्स विषय में।

#2: आईपीसीसी (IPCC) एग्जाम के लिए आवेदन करें

सीपीटी एग्जाम पास करने के बाद ही आप आईपीसीसी एग्जाम के लिए आवेदन कर सकते हैं और आपको बता दें कि आईपीसीसी एक्जाम सीए बनने के लिए सबसे महत्वपूर्ण होता है और IPCC Full Form यह है “Integrated Professional Competence Course” तथा यह एग्जाम पास करने के बाद आपको आगे की ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है।

#3: इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (IT) ट्रेनिंग कंप्लीट करें 

सीए बनने के अगले पड़ाव में आपको इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी की ट्रेनिंग करनी पड़ती है तथा इस ट्रेनिंग को करने में 100 घंटे का समय लगता है तथा सीए बनने के लिए इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी का नॉलेज होना बहुत महत्वपूर्ण होता है।

इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी ट्रेनिंग कंप्लीट होने के बाद आपको आर्टिकलशिप के लिए आवेदन करना चाहिए तथा यह आर्टिकलशिप 3 साल की होती है यह भी सीए बनने के लिए बहुत जरूरी होती है।

#4: सीए एग्जाम की पढ़ाई करें और एग्जाम क्लियर करें

जब आपकी आर्टिकलशिप कंप्लीट हो जाती है; तब आपका सीए फाइनल एग्जाम करवाया जाता है जिसमें आपको अच्छे अंकों के साथ पास होना होता है और इसके बाद आपको कम्युनिकेशन स्किल्स सीखनी होती है तथा इसके बाद आप एक सीए बन जाते हैं।

सीए बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए (CA Eligibility In Hindi)

सीए बनने के लिए योग्यता होना जरूरी है और इसी के साथ सीए की स्किल्स भी आपके अंदर होनी चाहिए और सीए बनने की योग्यता कुछ इस प्रकार होनी चाहिए।

  • सीए बनने के लिए सीपीटी एग्जाम देना होता है; उसके लिए आपको 10 वीं पास होना जरूरी है, लेकिन आप 12वीं के बाद भी सीपीटी एग्जाम दे सकते हैं।
  • अगर आप सीए बनना चाहते हैं; तो 12 वीं पास होना जरूरी है अगर आप यह कक्षा कॉमर्स विषय से पास करते हैं, तो अच्छी बात है।
  • यदि किसी अन्य स्ट्रीम से 12वीं पास करते हैं, तो भी सीए का एग्जाम दे सकते हैं।
  • अगर सीए बनने की उम्र के बारे में बात करें, तो अभी तक कोई उम्र तय नहीं की गई है और सीए फाउंडेशन कोर्स के लिए कोई भी आवेदन कर सकता है।
  • आपको बता दें कि आप ग्रेजुएशन के बाद भी सीए कर सकते हैं और सीधा आईपीसीसी एग्जाम के लिए आवेदन कर सकते हैं, बस आपको ग्रेजुएशन में कम से कम 55% मार्क्स से पास करनी होती हैं।
  • इसके अलावा सीए बनने के लिए आपके पास टीमवर्क स्किल्स, अच्छी कम्युनिकेशन स्किल्स एनालिटिकल स्किल्स होनी चाहिए।

सीए कोर्स क्या होता है (CA Course Details In Hindi)

सीए बनने के लिए सीए का कोर्स करना जरूरी होता है, सीए कोर्स में सबसे पहले सीए फाउंडेशन कोर्स होता है फिर सीए इंटरमीडिएट कोर्स, आर्टिकलशिप और इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी ट्रेनिंग तथा आखिर में सीए फाइनल कोर्स होता है।

  • CPT Course जिसे सीए फाउंडेशन कोर्स के नाम से जाना जाता है, इस कोर्स के लिए आप 10वीं या 12वीं के बाद आवेदन कर सकते हैं तथा इसका एग्जाम देकर सीए फाऊंडेशन कोर्स की पढ़ाई कर पाएंगे और सीए फाउंडेशन कोर्स करने के बाद आपको अगले कोर्स के लिए योग्य माना जाता है।
  • सीए फाउंडेशन कोर्स क्लियर करने के बाद स्टूडेंट को सीए इंटरमीडिएट कोर्स के लिए भेजा जाता है और इस कोर्स की पढ़ाई कराई जाती है। 
  • अगर आप ग्रेजुएशन कर लेते हैं, तो आपको सीए फाउंडेशन कोर्स करने की जरूरत नहीं होती है बस आपको ग्रेजुएशन अच्छे मार्क्स के साथ कंप्लीट करनी होगी।
  • सीए इंटरमीडिएट कोर्स जिसको CA IPCC Course भी कहा जाता है, उसे कंप्लीट करने के बाद आपको आर्टिकलशिप पूरी करनी होती है, जो कि 3 साल की होती है। 
  • इसमें आपको सीए का क्या काम होता है और सीए से संबंधित सारी जानकारी का अध्ययन करवाया जाता है।
  • सीए आर्टिकलशिप कंपलीट करने के बाद सीए फाइनल का एग्जाम होता है तथा इसे क्लियर करने के बाद आपको सीए की पोस्ट दी जाती है।

सीए कोर्स कॉलेज (CA Course College In India)

भारत में कई कॉलेज और यूनिवर्सिटी है जो सीए कोर्स करवाते हैं जिनमें से कुछ बेस्ट सीए कोर्स कॉलेज की सूची कुछ इस प्रकार है।

  • Indian Institute of Finance and Account, Pune
  • Indian Institute of Chartered Accountant of India, Noida
  • Zell Education College, Mumbai
  • Vista Academy, Dehradun
  • Navkar Institute, Ahmedabad
  • EduPristine College, Mumbai
  • ATM Global Business School, Delhi
  • Arihant Institute of Commerce and Management, Bangalore
  • CMS for CA, Hyderabad
  • International Institute of Management, Mumbai
  • Institute of Cost Accountants of India, Delhi

सीए कोर्स की फीस (CA Course Fees In India)

कई लोग सवाल करते हैं कि सीए बनने के लिए कितना पैसा लगता है, तो आपको बता दें कि इंडिया में कई कॉलेज है जो सीए कोर्स करवाते हैं तथा इनकी फीस अलग-अलग होती है। 

बड़े और प्रसिद्ध कॉलेज ज्यादा फीस चार्ज करते हैं जबकि उनसे छोटे कॉलेज कम फीस लेते हैं। सीए कोर्स की एवरेज फीस के बारे में बताएं तो आप 50 हजार से 1 लाख रुपए तक होती है या इससे ज्यादा भी हो सकती है। 

सीए की सैलरी कितनी होती है (CA Ki Salary In Hindi)

आपको तो पता ही होगा कि हर नौकरी में आपके अनुभव, योग्यता और स्किल्स के आधार पर सैलरी दी जाती है उसी तरह सीए की सैलरी भी होती है। 

आपको CA Ki Salary Per Month In India के बारे में बताएं तो एक सीए हर महीने 60 हजार से 80 हजार रुपए तक कमाता है, शुरुआत में सैलरी थोड़ी कम हो सकती है लेकिन अनुभव बढ़ने के साथ-साथ सीए की सैलरी में भी बढ़ोतरी होती है।

इस तरह से देखें तो सीए हर साल 6 लाख से 8 लाख रुपए कमाता है और अगर उसको ज्यादा एक्सपीरियंस है तो हर साल 10 लाख रुपए तक भी कमा सकता है।

FAQs – सीए का क्या काम होता है | सीए बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है?

#1: सीए कितने घंटे काम करता है?

जैसा कि हमने आपको बताया है कि सीए की पोस्ट ज्यादा जिम्मेदारी वाली होती है, इसलिए सीए को हर दिन 8 से 10 घंटे काम करना पड़ता है।

#2: सीए बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी चाहिए?

अगर आपसे यह बनना चाहते हैं, तो आपको सीए फाउंडेशन कोर्स, सीए इंटरमीडिएट या आईपीसीसी कोर्स सीए फाइनल कोर्स की पढ़ाई करनी पड़ती है। सीए कोर्स में आपको अकाउंटिंग, टैक्सेशन, ऑडिटिंग, लॉ, बिजनेस मैनेजमेंट आदि के बारे में पढ़ाया जाता है।

#3: भारत में सीए की एक महीने की सैलरी कितनी होती है?

सीए की एक महीने की सैलरी भारत में 60 हजार से 70 हजार रुपए होती है और एक अनुभवी सीए की सैलरी इससे ज्यादा होती है।

निष्कर्ष – CA Ka Kya Kaam Hota Hai?

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको सीए का क्या काम होता है, सीए बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है? इसके बारे में हिंदी में जानकारी प्रदान की है। 

इसके अलावा हमने आपको सीए कैसे बने, सीए कोर्स क्या है, CA Ki Salary, सीए बनने के लिए क्या करना पड़ता है आदि के बारे में भी बताया है।

आपको यह आर्टिकल जिसमें हमने आपको CA Full Details In Hindi के बारे में समझाया है, यह काफी पसंद आया होगा तो इसे आगे भी शेयर जरूर करें और उनकी मदद करें तथा इस आर्टिकल से संबंधित कोई सवाल हो तो हमसे जरूर पूछें।

Leave a comment